Sunday, January 25, 2009

गणतंत्र दिवस पर पहली बार सूर्य ग्रहण


भारत में गणतंत्र दिवस मनाये जाने के बाद से पहली बार कल सूर्य ग्रहण के दौरान पूरे देश में ग्रहण की काली छाया में समारोह आयोजित किये जायेगें। भारतीय ज्योतिषियों के रिकार्ड अनुसार पिछले डेढ़ सौ सालों के बाद 26जनवरी को सूर्य ग्रहण आया है। इसके पूर्व जनवरी माह में 1934में 15जनवरी को सूर्य ग्रहण था लेकिन आजादी के बाद व गणतंत्र दिवस के मौके पर 60 वें वर्ष में पहली बार ख्म् जनवरी को सूर्य ग्रहण होगा। पिछले डेढ़ सौ वर्ष में पहली बार 60 वें गणतंत्र दिवस पर यह सूर्य ग्रहण देखने को मिल रहा है। इसके पूर्व 1934 में 15 जनवरी माघ कृष्ण पक्ष सोमवती एवं मौनी अमावस्या के संयोग पर देखने को मिला था। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार सूर्य ग्रहण का असर हर मानव जीव पर पडे़गा। त्रिवेद्रम में सबसे पहले यह ग्रहण दो बजकर क्क् मिनिट पर दिखाई देगा तथा चार बजकर सात मिनिट पर यह पांडिचेरी में नजर आयेगा। इसके बाद भारत में यह कहीं भी दिखाई नहीं देगा। ज्योतिष के अनुसार श्रवण नक्षत्र एवं मकर राशि पर यह सूर्य ग्रहण हो रहा है जिसका असर छह माह से अधिक समय तक रहेगा। भारत की राशि भी मकर है।

4 comments:

राज भाटिय़ा said...

गणतंत्र दिवस की आपको हार्दिक शुभकामना !!

कुछ साल पहले हमारे यहां दिखाई दिया था, पुरा अंधेरा तो नही हुआ था लेकिन जेसा शाम के समय होता है ऎसा हो गया था, कुछ पल के लिये.
धन्यवाद

Mohan Vashisth said...

गणतंत्र दिवस की आप सभी को ढेर सारी शुभकामनाएं

http://mohanbaghola.blogspot.com/2009/01/blog-post.html

इस लिंक पर पढें गणतंत्र दिवस पर विशेष मेरे मन की बात नामक पोस्‍ट और मेरा उत्‍साहवर्धन करें

संगीता पुरी said...

अच्‍छा किया ...पाठको को जानकारी देकर.............गणतंत्र दिवस की बहुत बहुत बधाई एवं शुभकामनाएं।

Udan Tashtari said...

ग्रहण का असर क्या रहेगा, इसकी जानकारी भी दे देते तो ठीक रहता.

आपको एवं आपके परिवार को गणतंत्र दिवस पर हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाऐं.