Monday, September 14, 2009

बीजेपी ने दिया जोर का झटका

तीन राज्यों के विधानसभा उपचुनावों में बीजेपी अपनी सीटें बचाने में तो सफल रही ही गुजरात और मध्य प्रदेश में कांग्रेस से सीटें छीनकर उसे झटका भी दे दिया। उत्तराखंड में विकासनगर सीट फिर से हासिल करने से विधानसभा में बीजेपी को वहां अकेले ही बहुमत मिल गया है। 70 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी के अब 36 विधायक हो गए हैं। गुजरात में 7 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव से एक बार फिर यह बात साबित हो गई है कि नरेद्र मोदी का जादू बरकरार है। यहां सत्ताधारी बीजेपी की झोली में 5 सीट गए हैं और कांग्रेस को मात्र दो जगह-धोराजी व कोडिनार में सफलता मिली है। लोकसभा और जूनागढ़ नगरपालिका चुनाव में बीजेपी को अपेक्षित सफलता नहीं मिलने पर बीजेपी ने उपचुनाव के लिए हाई प्रोफाइल प्रचार अभियान नहीं चलाया था। इसके बावजूद तीन सीटें -देहगाम, जसदान और चोटिला कांग्रेस से छीन ली है। सामी विधानसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी भावसिंह राठौड़ ने जीत दर्ज की है। वह विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर इसी सीट से चुनाव जीते थे, पर लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी में शामिल हो गए थे। उत्तरी गुजरात की देहगाम, दांता, सामी और सौराष्ट्र की कोडिनार, धोराजी, जसदान व चोटिला विधानसभा सीटों पर 10 सितंबर को उपचुनाव कराए गए हैं। इन सात सीटों में से कांग्रेस के पास छह सीटें थीं, जबकि कोडिनार सीट बीजेपी के पास थी। कांग्रेस ने बीजेपी का गढ़ मानी जने वाली सौराष्ट्र की कोडिनार विधानसभा सीट उससे छीन ली है और धोराजी सीट पर पार्टी ने अपना कब्जा बरकरार रखा है। धोराजी में कांग्रेस प्रत्याशी जयेश रदादिया ने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी जयसुख थेसिया को 15,988 मतों के अंतर से हराया। जसदान सीट बीजेपी ने कांग्रेस के हाथों से छीन ली है। इस सीट पर बीजेपी के भरत भोगरा ने अपनी निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस की भावना बावलिया को 14,774 मतों के अंतर से हराया। कांग्रेस को अपने गढ़ जसदान में जोर का झटका लगा है। आजादी के बाद इस सीट से कभी न हारने वाली कांग्रेस के हाथों से इस बार यह सीट निकल गई। इस सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी की विजय हुई है। सामी में बीजेपी के भाव सिंह राठौड़ को जीत मिली है। वह पिछली बार यहां काग्रेस प्रत्याशी के रूप में जीते थे लेकिन इसबार उपचुनाव में पाला बदलकर बीजेपी प्रत्याशी बन गए। मध्य प्रदेश में दो विधानसभा सीटों में से एक पर बीजेपी और एक सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है। बीजेपी ने तेंदूखेड़ा विधानसभा उपचुनाव जीतकर यह सीट कांगेस से छीन ली है। यहां बीजेपी के भैयाराम पटेल ने कांगेस के विश्वनाथ सिंह पटेल को 13 हजार से अधिक मतों से हराया। कांगेस ने गोहद विधानसभा उपचुनाव में विजय प्राप्त कर अपनी सीट बरकरार रखी है। यहां कांगेस के रणवीर सिंह जाटव ने बीजेपी के सोबरन जाटव को 22571 मतों से पराजित किया। निर्वाचन कार्यालय के सूत्रों के अनुसार, रणवीर सिंह को 55442 तथा सोबरन जाटव को 32871 मत मिले। उत्तराखंड के देहरादून जिले के विकासनगर विधानसभा क्षेत्र के लिए हुए उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवार कुलदीप कुमार ने जीत दर्ज की। उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के नवप्रभात को 596 वोटों से हराया। राज्य निर्वाचन आयुक्त राधा रतूड़ी ने बताया कि कुलदीप कुमार को 24,934 वोट मिले। जबकि नवप्रभात के खाते में 24,338 वोट गए। इस सीट पर पिछले आम चुनाव में बीजेपी के टिकट पर विजयी रहे और इस बार निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ने वाले मुन्ना सिंह चौहान तीसरे नंबर पर रहे। उन्हें सिर्फ 14,744 वोट मिले।

1 comment:

पी.सी.गोदियाल said...

भूपेंद्र सिंह जी मैं भी यह नोट कर रहा था कि हमारा मीडिया जगत इस खबर को कितना भाव देता है लेकिन नहीं किसी ने कोई ख़ास तबज्जो इन खबरों को नहीं दी !

सोचता हूँ कि अगर इसकी जगह पर परिणाम ठीक उल्टे होते तो बस हर तरफ मीडिया पर सुबह से ही यही खबर पढने सुनने को मिलती !आज की टॉप खबर तो इनके पास यही है कि सौ-सौ चूहे खा के बिल्ली इकोनोमी क्लास में चली !